Saturday, 30 July 2016

दर्द भरी शायरी दो लाइन



कभी हम दीदार….


उनका भी कभी हम दीदार करते है
उनसे भी कभी हम प्यार करते है
क्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थी
पर फिर भी हम उनका इंतज़ार करते है !

Sunday, 24 January 2016

हिन्दी दर्द भरी सायरी


हमने भी…

हमने भी कभी प्यार किया था,
थोड़ा नही बेशुमार किया था,
बदल गयी जिंदगी तब,
जब उसने कहा अरे पागल मैने तो मज़ाक किया था…

Friday, 27 November 2015

ज़िन्दगी पर शायरी


ज़िन्दगी का भरोसा…


ज़िन्दगी का भरोसा नहीं,
दुनिया का यकीन क्या करें,
आज की यारी मतलब की,
कोई किसी के लिए क्यूँ मरे |
भाई भाई से करे धोखा,
गैरों से उम्मीद ना रही,
माना के यह कल युग है,
मगर प्यार जिंदा है कहीं ना कहीं |

Sunday, 18 October 2015

हिंदी में दो लाइन शायरी

मेरी ख्वाबिन्दा उमिदोको

मेरी ख्वाबिन्दा उम्मीदों को जगाया क्यों था …
दिल जलना था तो फिर तुमने दिल लगाया क्यों था ..
अगर गिरना था इस तरहा नजरोसे हमें …
तो फिर मेरे इस्सक को कलेजे से लगाया क्यों था..

Wednesday, 2 September 2015

लव शायरी दो लाइन

लव शायरी 


बनाने वाले ने दिल काँच का बनाया होता .
तोड़ने वाले के हाथ मे जखम तो आया होता .
जब बी देखता वो अपने हाथों को ,
उसे हमारा ख़याल तो आया होता..

Sunday, 5 July 2015

काश मैं पंछी होता !!

काश मैं पंछी होता
उडता खुले आकाश में
हवाओं से मैं बातें करता
उनसे उनकी कहानी सुनता
कुछ अपनी भी कहानी सुनाता
दूर देश की सैर को जाता, साथ अपनें
कुछ अनुभव लाता.....
किसी साथी से प्यार हो जाता..
उसके साथ दुनिया बसाता
फिर मेरे कुछ बच्चे होते, जब उनके...
पर नां निकले होते, तब उनका मैं....
हौसला बढाता, उंचे आकाश के किस्से सुनाता
इधर उधर की बातें करके.....
उनका अपना दिल बहलाता, कहते.......
पापा जल्दी आना..
साथ में ढेर सी बातें लानां, तब मैं उनसे कहता.....
बच्चों.....
अपनीं मां का कहना सुननां
शाम को जब मैं...
घर को आता, बच्चों को मैं जागा पाता....
कहते पापा.... कहानी सुनाओ !
इन्सानो का हाल बताओ ?
तब मैं....
उनसे कहता बच्चों......
इन्सानो का हाल ना पूछो !
कितना है बेहाल ना पूछो !
इक दुजे के खून का प्यासा.....
छोड चुका है सारी आशा...
नही रहा उसके पास कोई पर्दा..
छोड चुका वो सारी मर्यादा....
फिर मैं कहता सुनो बच्चों.........
इन्सानो की दुनिया नही है अच्छी.....
अपनी दुनिया ही है...
सीधी सच्ची....
अपनी दुनिया ही है, सीधी सच्ची....

Friday, 3 July 2015

Jaan...

Jaan hai mujhko zindagi se pyaari,
Jaan ke liye kar doon kurbaan yaari,
Jaan ke liye todd doon dosti tumhaari,
Ab tumse kya chhupaana,
Tum hi toh ho jaan hamaari !