Thursday, 15 August 2013

देश भक्ति पर कविता


आज शहीदों ने है तुमको, अहले वतन ललकारा।
तोडो गुलामी की जंजीरें, बरसाओ अंगारा।
हिन्दू-मुस्लिम-सिक्ख हमारा, भाई-भाई प्यारा
यह है आजादी का झण्डा, इसे सलाम हमारा।

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.